कब तक छीनेंगे गरीबों के हिस्से का निवाला

जांजगीर :- जिले के मड़वा तेंदू भाटा ताप विद्युत परियोजना में भू अर्जन जमीन के संबंध में नौकरी बाबत
श्रीमान कलेक्टर महोदय जिला जांजगीर चांपा छत्तीसगढ़
को इंटक जिलाध्यक्ष द्वारा निवेदन करते हुए पत्र ज्ञापित किया गया। ज्ञापन के माध्यम से कहा गया कि मडवा तेंदू भाटा ताप विद्युत परियोजना संचालित हुआ तो काफी लोगों की कृषि जमीन पर योजना के अंतर्गत आए बहुत से कृषक लोगों को मुआवजा दिया गया और नौकरी भी दी गई। जिससे अधिकांश भूमि मालिक संतुष्ट हो गए ।लेकिन 32 किसान मजदूर लोगों को आज तक नौकरी के नाम से छलावा दिया जा रहा है,जिनकी मदद के लिए आगे आने वाला कोई नजर नहीं आ रहा है। ये पीड़ित गरीब तबके के लोग राष्ट्रीय मजदूर युवा कांग्रेस संगठन इंटक के पास आवेदन लेकर आए । जिसे इंटक के जिला अध्यक्ष लाखन सिंह सिदार ने गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर साहब के समक्ष इन गरीब किसान मजदूर की पीड़ा को रखा और भू अर्जन के नियम के तहत न्याय की गुहार लगायी।उन्होंने कहा कि भू अर्जन के नियमों के आधार पर जो नौकरी दिया जाना था , आज तक नहीं मिल पाया है। जगह-जगह गुहार लगाने के बाद कुछ भी हासिल नहीं हुआ है। इन लोगों को कुछ वर्षों से प्रलोभन के लिए भत्ता दिया जा रहा था ,उसको भी बंद करके इनके बच्चों का निवाला छीन लिया गया है।इंटक नेता लाखन सिदार ने इन पीड़ितों को आश्वासन भी दिया गया कि अब कांग्रेस सरकार में सत्तासीन हो चुकी है । उन्होंने उम्मीद लगाकर आवेदन लेकर आए लोगों को ढांढस भी बंधाया तथा कलेक्टर महोदय जी से इन गरीब लड़कों को नौकरी देने एवं भत्ता जारी करने के लिए आवेदन भी सौंपा।

“हमारा हमेशा प्रयास रहेगा कि किसी गरीब के हिस्से का निवाला कोई न छीन सके तथा गरीबों के हितों की रक्षा होते रहे ।”

लाखन सिदार
राष्ट्रीय मजदूर युवा कांग्रेस इंटक जांजगीर-चांपा जिला

SHARE