रमन सिंह ने किया जन सभा में वेट घटाने का ऐलान 

छत्तीसगढ़ में पेट्रोल डीजल ₹5 सस्ता

रमन सरकार ने पेट्रोल और डीजल के दाम में ढाई रुपये तक वैट में कटौती कर दी है. अब प्रदेशवासियों को 5 रुपये सस्ता पेट्रोल और डीजल मिलेगा | मुख्यमंत्री ने चिखली में आमसभा को संबोधित करते हुए तत्काल ढाई रुपये वैट घटाने का ऐलान कर दिया है | अब छत्तीसगढ़वासियों को 5 रुपये सस्ता पेट्रोल-डीजल मिलेगा

इससे पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ये जानकारी दी था कि केंद्र सरकार ने तय किया है कि वो पेट्रोल और डीजल दोनो पर ₹ 1.50 उत्पाद शुल्क( excise duty) कम करेगी जबकि तेल कंपनियां ₹ 1 की कटौती करेंगी जिससे ग्राहकों को ₹ 2.50 की राहत मिलेगी।तेल के दामो पर एक्साइज ड्यूटी फिक्स होती है जबकि VAT परिवर्तनशील है क्योंकि वो तेल के दामो का प्रतिशत है। इसलिये तेल के दाम बढ़ने पर राज्य सरकार VAT बढ़ा देती है। केंद्र सरकार के सुझाव को मानते हुए महाराष्ट्र , गुजरात, झारखंड, त्रिपुरा और छत्तीसगढ़ राज्य सरकारों ने ₹ 2.5 VAT कम कर प्रदेश की जनता को  ₹ 5 की राहत का ऐलान किया है। गौरतलब है कि पांचों भाजपा शासित राज्य है, जिन पर विपक्ष ने तेल के बढ़े दामो को लेकर 10 सितंम्बर को भारत बन्द किया था |

जेटली ने कहा, ‘आज अंतरमंत्रालयीन बैठक में  तय किया गया कि एक्साइज ड्यूटी 1.5 रुपये घटाया जाएगा। इसके अलावा ऑइल मार्केटिंग कंपनियां (ओएमसी) एक रुपया घटाएंगी। केंद्र सरकार की तरफ से हम ढाई रुपये प्रति लीटर फौरन उपभोक्ताओं को राहत देंगे |

ईंधन के बढ़ते दाम से किसानों की पहले से बदहाल स्थिति और खराब होने की आशंका है। विशेषकर रबी फसलों पर इसका अधिक प्रभाव पड़ने का अनुमान है। डीजल अभी रिकॉर्ड उच्च कीमत पर बेचा जा रहा है। खेत जोतने के लिए ट्रैक्टर से लेकर सिंचाई के पंपसेट तक डीजल से ही चलते हैं। अत: डीजल के महंगा होने से किसानों पर इसका असर पड़ना अवश्यंभावी है। सब्सिडी वाला घरेलू रसोई गैस सिलेंडर भी पहली बार 500 रुपये प्रति सिलिंडर को पार कर गया है।

SHARE