चार प्रगतिशील कृषकों का रायपुर में सम्मान

विगत दिनों राजधानी के विवेकानंद सभागार में कृषि वर्ल्ड पत्रिका के 12 वें स्थापना दिवस के अवसर पर आयोजित प्रदेश स्तरीय उत्कृष्ट अन्नदाता सम्मान समारोह में जिले के चार किसान सम्मानित हुए | इस दौरान कृषि विज्ञान केंद्र के प्रभारी के डी महंत के साथ बहेराडीह के 15 सदस्यीय केला अनुसन्धान टीम द्वारा विकसित केले के रेशे से बने परिधान से कृषि मंत्री का सम्मान किया गया| अपने उद्बोधन में कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने किसानों द्वारा निरंतर नए नए प्रयोग नवाचार के लिए कृषि विभाग , कृषि विज्ञान केंद्र, कृषि महाविद्यालय व अनुसन्धान केंद्र जांजगीर की सराहना की|

समारोह में ट्रैक्टर चलाकर सामूहिक रूप से जैविक पद्धति से बड़े पैमाने पर सुगन्धित धान की खेती कर रही हथनेवरा चांपा गांव की  महिला कृषक श्रीमती हरबाई कंवर,भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष रामप्रकाश केशरवानी, अलसी के डंठल से कपड़ा बनाने वाले सिवनी के रामाधार देवांगन तथा जैविक खेती को बढ़ावा देने वाले मशरूम उत्पादक बहेराडीह केे दीनदयाल यादव को सम्मानित किया गया।

वो कृषक पूणे जांयेंगे जिनसे काम सीखने यूपी से लोग आ रहे 

कृषक सम्मान

इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ एस के पाटील जिस जाज्वल्यदेव कृषि आत्मा समिति बहेराडीह के केला अनुसन्धान टीम को प्रशिक्षण के लिए पुणे भेजने की बात कर रहे हैं उनके कार्यो से यूट्यूब के माध्यम से प्रभावित होकर अब यूपी के बैराई जिले के सुनील कुमार अग्रवाल समेत अन्य कृषक केले के तने से रेशे निकलने तथा कपड़ा बनाने की तकनीक को देखने केला बहेराडीह आएंगे।  इससे पहले भी कैनेडा से युवा वैज्ञानिक पैतृक काल्विन भी इस तकनीक को जानने यहाँ आ चुके हैं |  समिति सदस्य श्रीमती गीता यादव शोभाराम यादव व जागेश्वर प्रसाद कौशिक ने बताया कि पिछले 10 माह में उनकी 15 सदस्यीय टीम ने 2 दर्जन से अधिक जैकेट तैयार किया और प्रति नग 6,600 रुपये की दर से बिक्री कर रहे हैं।

 

 

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here