26 C
Raipur
Saturday, December 15, 2018
Home साहित्य

साहित्य

भोपाल, जर्नलिस्ट वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा 'समाज—सरकार की दशा—दिशा और मीडिया की भूमिका' विषय पर राष्ट्रीय मीडिया सेमीनार, भोपाल में आयोजित किया गया। कार्यक्रम में वरिष्ठ पत्रकार, साहित्यकार एवं विचारक डॉ. वेदप्रताप वैदिक विशेष व्याख्यान दिया, इस आयोजन में गणमान्य...
भिलाई, प्रखर राष्ट्रवादी कवि और समाज सेवक डॉ. बलदेव प्रसाद मिश्र जी की जयंती के अवसर पर 12 सितम्बर को प्रगति भवन, ऑफिसर एसोसिएशन बिल्डिंग, सिविक सेंटर, भिलाई के कार्यक्रम में ससम्मान श्रद्धा सुमन अर्पित किये गए। डॉ. बलदेव...
रायपुर, १३/९/१७, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने १४ सितम्बर को हिन्दी दिवस के अवसर पर जनता को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है, उन्होंने हिन्दी दिवस की पूर्व संध्या पर आज यहां जारी बधाई संदेश में कहा...
रायपुर, 05 सितम्बर 2017, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने ‘श्रीराम संस्कृति की झलक’ पुस्तक का विमोचन किया। इस पुस्तक के लेखक पूर्व विधायक श्री राजेश्री डॉ. महंत राम सुन्दर दास हैं, उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि 946 पृष्ठों की...
नई-दिल्ली, संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल भारतीय भाषाओं में उत्कृष्ट साहित्य लेखन के लिए दिया जाने वाला प्रतिष्ठित सरस्वती सम्मान के के बिरला फाउंडेशन की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार वर्ष 2016 का ‘सरस्वती सम्मान’ आगामी 30...
रायपुर, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज 31 जुलाई को साहित्य सम्राट मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर जनता को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है। डॉ. सिंह ने अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि धनपत राय...
राष्ट्रपति भवन से निवृतमान राष्ट्रपति श्री प्रणव मुखर्जी के बिदाई समारोह में "100 women achievers of india" को उनके साथ सेंटर टेबल पर लंच के लिए आमंत्रित किया गया| भोपाल की लेखिका श्रीमती स्वाति तिवारी ने इस अवसर को...
संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग छत्तीसगढ़ शासन --------------------------------------+--------------------- एवं हरि ठाकुर स्मारक संस्थान का संयुक्त आयोजन, दिनांक २३ जुलाई २०१७ अध्यक्षता--डां०नन्द किशोर तिवारी वरिष्ठ रचनाकार, बिलासपुर।वक्ता---पद्मश्री डां०महादेव पाण्डेय,वरिष्ठ पत्रकार श्री गोविन्द लाल वोरा, वरिष्ठ पत्रकार एवं साहित्य कारश्री रमेश नैयर, डां० रमेश अनुपम- प्राध्यापक...
संगवारी का मुंबई में साहित्य रसपान हुआ, अलका जी के घर में कवियों, लेखकों और शायरों ने शिरकत की। महानगर में हिंदी की गूंज संगवारी के आँगन से।
जगह निखिल वॉशरूम से बड़ी तेजी के साथ अपनी क्लास की ओर जा रहा था। भूख के मारे उसके पेट में चूहे कूद रहे थे। हाफटाइम हो चुका था। वह हाफटाइम होने का बेसब्री से इंतजार कर रहा था। इतना...